Home / हेल्थ-फिटनेस / Weight Loss: डायबिटीज रोगियों के लिए वजन कम करना होता है मुश्किल, जानिए वो तीन वजहें

Weight Loss: डायबिटीज रोगियों के लिए वजन कम करना होता है मुश्किल, जानिए वो तीन वजहें

सलाह के पहले टुकड़ों में से एक जो डायबिटीज से पीड़ित लोगों को दिया जाता है, वो है वजन कम करना. एक स्वस्थ बीएमआई और हेल्दी वजन डायबिटीज को कंट्रोल करने में काफी हद तक मदद कर सकता है. हालांकि, डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए वजन कम करना थोड़ा ज्यादा मुश्किल होता है. यहां तीन वजह बताए गए हैं.

1. इंसुलिन रेसिस्टेंस

कार्बोहाइड्रेट से भरपूर भोजन से ब्लड शुगर के लेवल में बढ़ोत्तरी हो सकती है. पैंक्रियाज के जरिए इंसुलिन को ब्लड से ग्लूकोज को बाहर निकालने में मदद करने के लिए और उन कोशिकाओं में सेकरेटेड किया जाता है जहां इसका इस्तेमाल एनर्जी पैदा करने के लिए किया जा सकता है.

हालांकि, टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित लोगों में ये प्रोसेस ठीक से काम नहीं करती है. उनका शरीर इंसुलिन के एक्शन के लिए रेसिस्टेंस हो जाता है और इस तरह इंसुलिन ब्लड से ग्लूकोज को बाहर निकालने में उतना इफेक्टिव नहीं होता है. इसलिए, कार्बोहाइड्रेट खाने के बाद उनके ब्लड में ब्लड शुगर की बढ़ोत्तरी खत्म हो जाती है.

हाई ब्लड शुगर को कम करने के लिए, शरीर ज्यादा इंसुलिन बनाता है. इंसुलिन का एक और काम है, जो फैट को जमा करना और फैट के स्टोरेज से फैट के रिलीज को रोकना है. ऐसे में डायबिटीज के मरीजों के लिए वजन कम करना मुश्किल हो जाता है.

2. हर समय भूख लगना

डायबिटीज से पीड़ित लोगों को डाइट से संबंधित कई सलाह दी जाती हैं जैसे कि उनकी कैलोरी पर कंट्रोल रखना, कार्ब का सेवन कम करना और छोटे भोजन करना. कभी-कभी इस सलाह का पालन करने से उन्हें भूख लगती है जिसके रिजल्ट के तौर पर उन्हें भूख लगती है.

कार्ब वैले भोजन से ब्लड शुगर में बढ़ोत्तरी होती है जिसके बाद एक बूंद होती है, जो फ्रीक्वेंट लगातार भूख को उत्तेजित करती है. भूखा व्यक्ति ज्यादा खाता है, जिससे वजन बढ़ता है.

3. डायबिटीज की दवा

इंसुलिन फैट को स्टोर करने में मदद करता है और इस तरह डायबिटीज के इलाज के लिए इंसुलिन लेने से भी कुछ वजन बढ़ सकता है. कुछ डायबिटीज और ओरल मेडिकेशन्स पैंक्रियाज को ज्यादा इंसुलिन पैदा करने के लिए उत्तेजित करके काम करती हैं, जिससे वजन भी बढ़ सकता है.

ब्लड शुगर के लेवल को कम करने का सबसे अच्छा तरीका कार्बोहाइड्रेट का सेवन कम करना है. कस्टमाइज्ड मील प्लान हासिल करने के लिए आप न्यूट्रीशन एक्सपर्ट की मदद ले सकते हैं. और साथ ही इन तरीकों को बेहतर रूप में फॉलो कर सकते हैं.

Check Also

किसी भी रूप में डाइट में शामिल करें गाजर, कई बीमारियों से आपका करेगी बचाव

वैसे तो आपको गाजर पूरे साल बाजार में आसानी से मिल जाएगी। लेकिन गाजर का ...