Home / मनोरंजन / Suraj Pe Mangal Bhari Review : मनोज और दिलजीत की जोड़ी ने लगाया एंटरटेनमेंट का तड़का, लॉकडाउन का हैंगओवर उतारेगी ये फिल्म

Suraj Pe Mangal Bhari Review : मनोज और दिलजीत की जोड़ी ने लगाया एंटरटेनमेंट का तड़का, लॉकडाउन का हैंगओवर उतारेगी ये फिल्म

फिल्म – सूरज पे मंगल भारी
निर्देशक – अभिषेक शर्मा
फिल्म की कास्ट – मनोज बाजपेयी, दिलजीत दोसांझ, फातिमा सना शेख, सुप्रिया पिलगांवकर, मनोज पाहवा, सीमा पाहवा, अन्नू कपूर और विजय राज
स्टार – 3.5/5

अखिरिकार सिनेमा हॉल के दरवाजे एक बार फिर से खुल चुके हैं और फिल्म रिलीज हुई है ‘सूरज पे मंगल भारी’, कोरोना काल में पूरे 9 महीने बाद किसी फिल्म की थिएटर में एंट्री हुई है. जिसे लेकर सिनेमा प्रेमियों में एक अलग सा भाव देखने को मिल रहा है. फिल्म प्रेमी इस खबर से खुश हैं कि किसी निर्देशक ने इतनी हिम्मत की उसकी फिल्म सीधे सिनेमा में रिलीज हो जिसका फायदा अब होते हुए दिखाई दे रहा है.

फिल्म का पहला शो आज दर्शकों ने देखा है. जिसके बाद वे सभी निर्देशक अभिषेक शर्मा की तारीफ कर रहे हैं. फिल्म को दर्शकों की ओर से काफी अच्छा रेस्पोंस देखने को मिल रहा है. जो एक अच्छी खबर है. तो आइए जानते हैं कैसी है फिल्म ‘सूरज पे मंगल भारी’

फिल्म का नाम और शकल दोनों ही बिलकुल अलग है. ये फिल्म 1990 के दशक की बंबई में मंगल राणे (मनोज बाजपेयी) और सूरज (दिलजीत दोसांझ) की कहानी है. जो अनचाहे ही एक-दूसरे के दुश्मन बन जाते हैं. कई बार यूं होता है कि जिंदगी जिनकी खुशियां छीन लेती हैं, उन्हें दूसरों की खुशियां बर्दाश्त नहीं होती. कुछ ऐसा ही इस फिल्म में होता है. मंगल राणे की जिंदगी का प्यार छीन चुका है. जिसका नतीजा ये है कि वो नहीं चाहता कि किसी और के जिंदगी के प्यार की एंट्री हो.

मंगल इस कहानी में एक मैरिज डिटेक्टिव है. जिसके पास लड़की वाले रिश्ता करने से पहले जाकर लड़कों की खोज-खबर निकलवाते हैं और मंगल लड़कों के ऐब ढूंढ निकालता है. इस कड़ी में सूरज जिसका किरदार दिलजीत दोसांझ निभा रहे हैं उसकी जिंदगी में मंगल आता है और उसकी शादी बनते- बनते बिगड़ जाती है.

सूरज अपनी जिंदगी में कसम खाता है कि वो अब मंगल की बहन तुलसी राणे (फातिमा सना शेख) अपने प्यार में फसाएगा और उसी से शादी करेगा. लेकिन इसके आगे क्या होता है हम कहेंगे कि आप इस फिल्म का पूरा आनंद सिनेमा हॉल ही जाकर उठाए क्योंकि कहानी में दम है और फिल्म किरदारों में उससे भी ज्यादा दम है. इस फिल्म को निर्देशक अभिषेक शर्मा बहुत समय लेकर बनाया है. जो हमें पूरी तरह से पर्दे पर दिखाई पड़ता है. कहानी में बहुत ट्विस्ट और टर्न है. जो आपको आपके कुर्सी से नहीं उठने देंगे.

फिल्म की मजबूत कड़ियां

– फिल्म आपको खुश करती है. लॉकडाउन में जिन्होंने सिनेमा के अनुभव को मिस किया है वो इस फिल्म के साथ एक अच्छा अनुभव लेकर ही बाहर आएंगे

– फिल्म के सवांद आपको बोर नहीं करते. फिल्म की स्क्रिप्ट जितनी अच्छी है उसी तरह से फिल्म के डायलॉग कमाल के हैं.

– फिल्म के गाने भी आपको ज्यादा बोर नहीं करेंगे आप इन्हें फिल्म में एन्जॉय करेंगे.

– मनोज बाजपेयी के बेहतरीन मेकओवर इस फिल्म में दमदार लुत्फ पैदा करते हैं. इस फिल्म में मनोज ने कई ऑउटफिट पहने हैं. जिनमें वो बहुत ही मजेदार अंदाज में नजर आए हैं. जिन्हें देखने के बाद आप अपनी हंसी को रोक नहीं पाएंगे.

– सिनेमा प्रेमियों के लिए ट्रीट है ये फिल्म

फिल्म की कमजोर कड़ियां

– फिल्म के गाने और अच्छे हो सकते थे.

– फिल्म का निर्देशन कई जगह पर कमजोर नजर आता है, लेकिन फिल्म के रोमांच पर उससे ज्यादा असर नहीं पड़ता.

Check Also

रश्मि देसाई न कराया बोल्ड फोटोशूट, व्हाइट आउट फिट में दिखा ग्लैमरस अंदाज

नई दिल्ली। टीवी सीरियल रावण से अभिनय की दुनिया में कदम रखने वाली रश्मि देसाई (Rashmi ...