Home / धर्म / How to make Mawa at home?: घर पर कैसे बनाएं बाजार जैसा खोया या मावा?

How to make Mawa at home?: घर पर कैसे बनाएं बाजार जैसा खोया या मावा?

How to make Mawa at home

रक्षाबंधन का त्योहार आने वाला है और शुरू होगा मिठाईयों का दौर, जहां बहनें अपने भाईयों को मिठाई खिलाकर राखी बांधेंगी। रक्षाबंधन पर नकली मिठाईयां  भी खूब मार्केट में आती हैं, ऐसे में आप अगर घर पर खोया बनाकर उसकी मिठाई बनाएंगे तो स्वादिष्ट भी होंगी मिठाईयां और शुद्ध भी होंगी। खोये का इस्तेमाल सिर्फ मिठाईयां ही नहीं बल्कि सब्जियों की तरी में भी इस्तेमाल कियका जाता है। खोये के भी तीन प्रकार होते हैं।

बट्टी खोया

इसमें कड़ा और जमा खोया होता है। इसे बनाने केलिए दूध तब तक गाढ़ा किया जाता है जब तक दूध का करीब पांचवा हिस्सा नहीं रह जाता है। खोया बनने के बाद कटोरे में खोया जमा दिया जाता है, इस खोये का इस्तेमाल लड्डू और बर्फी बनाने में इस्तेमाल किया जाता है।

चिकना खोया

इस खोये को बट्टी खोया जितना गाढ़ा होने से पहले ही तैयार मान लिया जाता है, इससे रसगुल्ला बहुत अच्छा बनता है।

दानेदार खोया 

इस खोये को बनाते वक्त दूध को उबालते समय उसमें नींबू का रस डालते हैं जिससे खोया दानेदार बनता है। यह खोया कलाकंद, लड्डू और दानेदार बर्फी या पेड़े बनाने में इस्तेमाल होता है।

घर पर कैसे बनाएं खोया या मावा (How to make mawa at home?)

सबसे पहले इस बात का ध्यान रखना है कि मावा बनाने के लिए भैंस का फुल क्रीम दूध इस्तेमाल करें। अब भारे तले वाले बर्तन में दूध उबलने के लिए रख दीजिए। दूध में उबाल आने के बाद आग को मीडियम आंच में कर दीजिए और हर 3-4 मिनट में इसे चलाते रहें। थोड़ी देर बाद दूध गाढ़ा होने लगेगा, अब कलछुल से लगातार दूध चलाना है जिससे दूध तले में लगे ना, दूध जब हलवे की तरह गाढ़ा होने लगे तब तक खोये को चलाते हुए पकाएं। अब मावा बन चुका है, गैस बंद कर दें और ठंडा होने दें। ठंडा होने पर यह और अधिक गाढ़ा हो जाता है।

अब खोये को बर्तन में ठंडा होने के लिए रख दीजिए और मनपसंद मिठाई बनाइए। फ्रिज में रखकर आप 4-5 दिन खोये का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Check Also

पितृ पक्ष में इंदिरा एकादशी व्रत से पितृ प्रसन्न होते हैं, जानें महत्व

 हिंदू धर्म में एकादशी व्रत को सभी व्रत में विशेष माना गया है. एकादशी व्रत ...