Home / हेल्थ-फिटनेस / Coronavirus Precautions: कोरोना के मरीज इन जरूरी बातों का रखें ध्यान, नहीं होगी सांस लेने में दिक्कत की समस्या!

Coronavirus Precautions: कोरोना के मरीज इन जरूरी बातों का रखें ध्यान, नहीं होगी सांस लेने में दिक्कत की समस्या!

नई दिल्ली: भारत में कोविड-19 की मौजूदा लहर (Covid-19 second wave) साल 2020 में आयी पहली लहर की तुलना में कई मायनों में अलग है. हर दिन देश भर के विभिन्न शहरों से अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी (Oxygen shortage) की खबरों को देखते हुए यह तो साफ हो गया है कि इस बार कोरोना से पीड़ित मरीजों में पिछली साल की तुलना में सांस लेने की समस्या ज्यादा (Breathing Problem) बढ़ी है. ICMR के आंकड़े भी यही बताते हैं कि इस साल करीब 48 प्रतिशत मरीजों में सांस लेने में कठिनाई की समस्या देखने को मिल रही है जबकि पिछले साल कोरोना के मरीजों में सूखी खांसी का लक्षण ज्यादा दिख रहा था.

इन बातों का रखें ध्यान ताकि सांस लेने में न हो दिक्कत

ऐसे में घर पर होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों (Home Isolation Patients) को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि अगर पल्स ऑक्सीमीटर में ऑक्सीजन का लेवल 90 से नीचे जाता है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें और अस्पताल जाएं. इसके अलावा कोरोना मरीज को सांस लेने में किसी तरह की कोई दिक्कत न हो, इसके लिए भी इन बातों का विशेष रूप से पालन करें.

1. अगर कोरोना मरीज के शरीर में ऑक्सीजन की कमी दिख रही है तो उन्हें मोमबत्ती, बिजली या गैस वाला हीटर, गैस स्टोव, पेंट थिनर, किसी भी तरह का स्प्रे- ऐसी चीजों से दूर ही रहना चाहिए वरना सांस लेने में हो रही दिक्कत और ज्यादा बढ़ सकती है.

2. कोरोना के मरीजों को भूलकर भी स्मोकिंग नहीं करनी चाहिए (Avoid smoking) और ना ही घर में किसी और को स्मोकिंग करनी चाहिए. साथ ही घर में धुएं वाली अगरबत्ती या धूपबत्ती भी न जलाएं. किसी भी तरह के धुएं के संपर्क में आने से मरीज क सांस लेने में दिक्कत की समस्या महसूस हो सकती है.

3. आप चाहें तो घर में कुछ ऐसे इंडोर प्लांट्स (Indoor plants for Oxygen) भी लगा सकते हैं जो घर के अंदर की हवा को साफ करने के साथ ही घर की हवा में ऑक्सीजन बढ़ाने का भी काम करते हैं. एरिका पाम, स्नेक प्लांट, मनी प्लांट, एलोवेरा प्लांट- ये कुछ ऐसे पौधें हैं जो अगर आपके आस पास हों तो आप फ्रेश फील करेंगे और ऑक्सीजन की भी कमी महसूस नहीं होगी.

4. एम्स के चीफ डॉ. रणदीप गुलेरिया और मेदांता मेडिसिटी अस्पताल के चेयरमैन डॉ. नरेश त्रेहन की मानें तो अगर घर पर इलाज करवा रहे कोरोना मरीजों के शरीर में ऑक्सीजन लेवल नीचे जा रहा तो उन्हें अनुलोम-विलोम (Anulom Vilom) करना चाहिए और गहरी सांस लेने वाली एक्सरसाइज (Deep Breathing Exercise) करनी चाहिए. लंबी सांस लेकर रोकने से फेफड़े में ऑक्सीजन की ज्यादा मात्रा पहुंचती है जिससे फेफड़े मजबूत होते हैं और सांस लेने में दिक्कत कम हो जाती है.

5. खून में ऑक्सीजन (Oxygen) की अच्छी मात्रा बनी रहे, इसके लिए डाइट में ऐसी चीजें शामिल करें जो खून में हीमोग्लोबिन को बढ़ाने में (Diet that increase haemoglobin in blood) मददगार हों. अपनी डाइट में कॉपर, आयरन, विटामिन के अलावा फॉलिक एसिड वाली चीजें जरूर शामिल करें. ये पोषक तत्‍व खून में ऑक्सीजन का स्तर बढ़ाने में मददगार करते हैं. आलू, तिल, काजू और मशरूम में भरपूर मात्रा में कॉपर होता है. आयरन के लिए चिकन, मांस के अलावा बीन्स, हरी पत्तेदार सब्जियां और दालों का सेवन करें. खाने में नमक का सेवन कम करें.

Check Also

Hair care : लॉकडाउन में बालों का खयाल रखने के लिए अपनाएं ये टिप्स, कुछ ही दिनों में दिखेगा असर

कोरोनावायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर हम सभी पर कहर बनकर टूट रही है. इस महामारी ...