Home / हेल्थ-फिटनेस / हार्ट अटैक जैसी कई गंभीर बीमारियों को दूर रखता है कटहल, जाने इसके फायदे

हार्ट अटैक जैसी कई गंभीर बीमारियों को दूर रखता है कटहल, जाने इसके फायदे

आजकल काम की अधिकता के कारण लोग ब्लड प्रेसर और हार्ट अटेक जैसी बीअरियो से परेशान रहते है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी चीज के बारे में बताने जा रहे है जिसकी वजह से इन बीमारियों पर कंट्रोल पाया जा सकता है। कटहल में कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन, जिंक, थाइमिन, नियासिन, राइवोफ्लेविन, विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन बी6 पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं। इसमें कैलोरी ज्यादा नहीं होती और फाइबर की मात्रा भरपूर होती है इसलिए इसके खाने से आपको एक्सट्रा कैलोरीज की चिंता करने की भी जरूरत नहीं।

तो आइये जानते है कटहल से होने वाले फायदों के बारे में …. 

दिल के लिए है फायदेमंद – कटहल खाने से आप दिल की बीमारियों से दूर रहेंगे। इसके फल में विटामिन बी6 होता है जो ब्लड में होमोसिस्टीन के स्तर को कम करता है, जिससे हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा कम हो जाता है।कटहल में कैलोरी बहुत कम होती है इसलिए दिल के मरीजों के लिए इसे अच्छा माना जाता है। कटहल में पोटैशियम होता है इसलिए ये हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए भी फायदेमंद  है।

एनर्जी से भरपूर कटहल – कटहल में फ्रक्टोज और सुक्रोज होते हैं इसलिए इसका पका फल खाने से भी आपका ब्लड शुगर नहीं बढ़ता। कटहल में कोलेस्ट्रॉल कम होता है लेकिन एनर्जी भरपूर होती है। पके कटहल के पल्प को मैश करके पानी में उबाल लें और इसे ठंडा करके पियें। इससे आपको इंस्टैंट एनर्जी मिलेगी।

कब्ज में – कटहल में फाइबर खूब होता है जो शरीर के मल को नरम बनाता है। इससे आपकी पाचन क्रिया ठीक रहती है और पेट साफ रहता है। कटहल आंतों के लिए भी फायदेमंद है। इसको खाने से बवासीर में भी आराम मिलता है।

ब्लड प्रेशर में – कटहल हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए अच्छा माना जाता है। हाई बल्ड प्रेशर, शरीर में सोडियम की मात्रा के अधिक हो जाने से होता है। कटहल में पोटैशियम होता है। ये शरीर में सोडियम के स्तर को कम करने में मदद करता है और ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखता है।

हड्डियां रहेंगी मजबूत – कटहल में कैल्शियम और मैग्नीशियम भी प्रचुर मात्रा में होता है इसलिए ये हड्डियों के लिए भी फायदेमंद है। इसके अलावा कटहल में पोटैशियम भी होता है, जो शरीर में कैल्शियम को रोकने में मदद करता है। कैल्शियम और मैग्नीशियम से हड्डियों के घनत्व में सुधार होता है इसलिए इससे ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारियों की संभावना भी कम होती है।

Check Also

कोविड-19 से प्रभावित रोगियों के फेफड़ों के उत्तक अधिकतर मामलों में ठीक हुए

लंदन :  कोविड-19 से बुरी तरह प्रभावित रोगियों के फेफड़ों के उत्तक अधिकतर मामलों में ...