Home / हेल्थ-फिटनेस / सेहत के लिए खराब है तेज नमक, ब्लड प्रेशर- हृदय रोग जैसी बीमारियों को देता है न्योता

सेहत के लिए खराब है तेज नमक, ब्लड प्रेशर- हृदय रोग जैसी बीमारियों को देता है न्योता

हम सभी लोग अपने खाने में नमक (salt) का इस्तेमाल करते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि जरूरत से ज्यादा मात्रा में नमक खाने से कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं. जरूरत से ज्यादा नमक खाने से आपको हाई ब्लड प्रेशर और दिल की बीमारियां हो सकती है. इतना ही नहीं जरूरत से ज्यादा नमक कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों को बढ़ावा दे सकता है. ऐसे में यह जानना जरूरी है कि आप कितनी मात्रा मे नमक खाएं, ताकि आप हेल्दी रहें.

अगर आप ज्यादा नमक खाना पसंद करते हैं. लेकिन आप सब कुछ जानकर भी इस आदत को बदल नहीं पा रहे हैं, तो हमारे पास कुछ सुझाव है. खाने में ज्यादा नमक की जगह आप लेमन पाउडर, आमचूर पाउडर, अजवाइन, काली मिर्च और ऑरिगैनो की पत्तियों का इस्तेमाल कर सकते हैं. इन चीजों का इस्तेमाल करने से स्वाद भी बढ़ेगा और नमक की कमी भी महसूस नहीं होगी. इसके अलावा आप खाना पकने के बाद बाद स्वाद अनुसार नमक डालें.

ब्लड प्रेशर

high bp

हाई बीपी

ज्यादातर लोग जानते हैं कि जरूरत से ज्यादा नमक खाने से बीपी जैसी समस्याएं बढ़ सकता है. इसीलिए अपने खाने में कम नमक डालें. कुछ लोग खाने के ऊपर से नमक डालकर खाते हैं, उन्हें खासतौर से इससे बचना चाहिए. जो लोग जरूरत से ज्यादा नमक खाते हैं उनकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है. हम लोग अपने लंच और डिनर में पापड़, अचार, सॉस, चटनी और नमकीन खाना नहीं भूलते हैं. इन चीजों में नमक तो ज्यादा होता ही है. साथ ही बल्ड प्रेशर के लिए भी खतरनाक है.

दिल की बीमरियां बढ़ती

हमारे शरीर का महत्वपूर्ण अंग हर्ट होता है. सामान्य से ज्यादा खाने से हमारे हृदय पर भी असर पड़ता है. इसीलिए दिल को हेल्दी रखने के लिए खाने में नमक की मात्रा कर करें.

डिहाइड्रेशन

खान में जरूरत से ज्यादा नमक खाने से शरीर में डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है. शरीर में डिहाइड्रेशन की समस्या न हो इसके लिए आप नमक का संतुलित मात्रा में सेवन करें. डिहाइड्रेशन से बचने के लिए भरपूर मात्रा में पानी पीएं. रोजाना 8 से 10 ग्लास पानी पीएं. पानी पीना हमारे सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है.

सूजन

हमे नमक का सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए. जरूरत से ज्यादा नमक का सेवन करने पर शरीर में पानी भर जाता है, जिसे वाटर रिटेंशन या फ्लूड रिटेंशन कहते हैं. ऐसी स्थिति में हाथ, पैर और चेहरे में सूजन आ जाती है.

Check Also

शरीर को पूरी तरह से बर्बाद कर देती है ये गलती जो आप रोज रात को करते है, एक बार जरूर पढ़े, वरना पछतायेंगे

यूँ तो व्यक्ति अपने रोजमर्रा के जीवन में कई तरह के काम करता है. जी ...