Home / हेल्थ-फिटनेस / सावधान: करेला खाने से हो सकते है चौका देने वाले नुकसान

सावधान: करेला खाने से हो सकते है चौका देने वाले नुकसान

दोस्तों जैसे हम सब जानते हैं की हरी सब्जियों का सेवन करना हमारे सेहत के लिए बहुत फ़ायदेमं होता है.हर सब्जी का अपने स्वाद, गुण,और फायदे होते हैं.जैसे पालक, गोभी, टमाटर, करेला आदि.ये सभी सब्जियाँ हमें डॉक्टर्स की सलाह पर जबरदस्ती खाना पड़ता हैं क्यूंकि ये सेहत के लिए फायदेमंद होती हैं .अब करेला ही ले लीजिये यदि किसी व्यक्ति को शुगर या डाइबिटीज़ होती है तो डॉक्टर्स सलाह देते है की करेला जरूर खाना होगा. इसलिए दूसरों के लिए दिए गए डॉक्टर्स के सलाह को हम लोग अपने सामान्य जीवन को भी किसी मरीज़ से काम नहीं बनाते है.बिना जाने समझे किसी भी सब्जी का सेवन करना कभी कभी हमारे लिए नुकसानदेह भी हो सकता हैं.

अभी तक आपने करेला खाने और इसके फायदे के बारे में सुना होगा पर आपको पता है की बहुत सारे परिस्तिथियों में आपको करेला नहीं खाने चाहिए. तो आइये आज जाने की किन लोगो को नहीं खाना चाहिए करेला

जो महिलाएं प्रेगनेंट हैं: जो महिलाये प्रेगनेंट हैं उन्हें करेले नहीं खाने चाहिए क्योकि इसमें मौजूद मोमोकैरिन प्रेगनेंसी में नुकसान पंहुचा सकते हैं इसे ज्यादा खाने से अबॉर्शन के चांस बढ़ सकते हैं.

जिन्हे फर्टिलिटी प्रॉब्लम है: कोई महिला या पुरुष फर्टिलिटी रिलेटेड मेडिसिन ले रहे हैं, वे ज्यादा करेले न खाएं. इससे इन दवाओं का असर कम हो सकता हैं.

जिन्हे लिवर प्रॉब्लम है: ज्यादा करेले खाने से लिवर में एंजाइम्स बढ़ जाते हैं| इससे इंफेक्शन की संभावना बढ़ती हैं |

जिन्हे पीरियड्स प्रॉब्लम है: ज्यादा करेले खाने से पीरियड्स के दौरान ब्लीडिंग बढ़ सकती है. इसलिए पीरियड्स प्रॉब्लम होने पर करेले अवॉयड करें.

जिन्हे पाइल्स की प्रॉब्लम है: इस मौसम में ज्यादा करेले खाने से पाइल्स की प्रॉब्लम बढ़ सकती है.

जिनकी सर्जरी हुई है: ज्यादा करेले खाने से ब्लड शुगर लेवल प्रभावित होता है. इसलिए सर्जरी होने के बाद दो सप्ताह तक न करेला न खाएं.

जिन्हे लो शुगर की प्रॉब्लम है: इसे खाने से शुगर लेवल नार्मल से भी कम हो सकती है. अगर लो शुगर की प्रॉब्लम है तो करेला अवॉयड करना ठीक होगा

Check Also

गंजेपन से परेशान हैं, रोजाना खाली पेट ये एक चीज खाइए, कुछ ही दिनों में नए बाल आने भी शुरू हो जाएंगे

बालों का गिरना, टूटना, झड़ना, डेनसिटी कम होना, ये सब आजकल आम समस्‍याएं बनती जा ...