Home / हेल्थ-फिटनेस / सबसे अनोखा होटल: जो हर साल बनता है और बह जाता है

सबसे अनोखा होटल: जो हर साल बनता है और बह जाता है

आज हम आपको एक ऐसे होटल के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे हर साल (Every Year) बनाना पड़ता है। क्योंकि ये होटल हर साल नष्ट (Destroyed)हो जाता है।अब आप सोच रहे होंगे कि भला ऐसा भी कोई होटल होगा जिसे हर साल बनाना पड़ता है, तो इसका जवाब है हां। दरअसल, स्वीडन (Sweden) में एक ऐसा ही होटल है। जिसे हर साल बनाना पड़ता है क्योंकि ये होटल हर साल नदी (River) की तेज धारा में बह जाता है।

स्वीडन के इस आइस होटल को हर साल सर्दियों में बनाया जाता है। लेकिन पांच महीने के बाद यह पिघल जाता है और नदी के पानी में मिल जाता है। इस अनोखे होटल को बनाने की परंपरा साल 1989 से ही चली आ रही है। यह 32वां साल है, जब होटल को बनाया गया है। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए इस साल आइस होटल में कोविड गाइडलाइन्स का भी ध्यान रखा जा रहा है।

यह अनोखा होटल टॉर्न नदी के तट पर बना है। इसे बनाने के लिए नदी से करीब 2500 टन बर्फ निकाला जाता है और फिर अक्तूबर महीने से इसका निर्माण कार्य शुरू हो जाता है। इसे बनाने के लिए दुनियाभर से कलाकार आते हैं, जो अपनी कलाकारी दिखाते हैं।

हर साल होटल में पर्यटकों के ठहरने के लिए कई कमरे बनाए जाते हैं। कमरों के अंदर का तापमान करीब माइनस पांच डिग्री सेल्सियस रहता है। बताया जाता है कि हर साल करीब 50 हजार पर्यटक इस होटल में ठहरने के लिए आते हैं।

इस होटल की सबसे खास बात यह कि यह होटल पर्यावरण अनुकूल है। यहां पर रखे गए सभी उपकरण सौर ऊर्जा से चलते हैं। यहां तक कि इस होटल में आइस बार भी है। इसके अलावा फीचर लाइटिंग की व्यवस्था भी है, जिससे इसका लुक बदलता रहता है। साउंड इफेक्ट से जंगल जैसा अहसास होता है।

Check Also

आपको केवल आकर्षित करने के लिए 51 विश्वासों की आवश्यकता है

मैंने बहुत से लोगों को ‘खुद को पीटते’ देखा है क्योंकि वे आकर्षण के नियम ...