Home / मनोरंजन / संगीत निर्देशक बप्पी लहरी को हुआ कोराना, मुंबई के अस्पताल में हुए भर्ती

संगीत निर्देशक बप्पी लहरी को हुआ कोराना, मुंबई के अस्पताल में हुए भर्ती

भारत में कोरोनावायरस मामलों की संख्या में तेजी से वृद्धि हो रही है. एक बार फिर कोरोना का प्रचंड रूप देखने को मिल रहा है. कोरोना की इस एक और लहर का सामना हर कोई कर रहा है. पिछले कुछ हफ्तों में, COVID-19 मामलों की संख्या में वृद्धि हुई है. इस बार कोरोना ने बॉलीवुड में दस्तक दी है. हिन्दी सिनेमा के एक बाद एक सितारे को कोरोना अपनी चपेट में ले रहे है. अब संगीत निर्देशक बप्पी लहरी (Bappi Laheri)  भी इस लिस्ट में शामिल हो गए हैं.

कार्तिक आर्यन, आमिर खान, परेश रावल, आर माधवन, रणबीर कपूर जैसे सेलेब्स हाल ही में कोरोना की चपेट में आए हैं. अब, संगीत निर्देशक बप्पी लहरी का भी COVID-19 सकारात्मक परीक्षण आया है. उनके प्रवक्ता ने संगीत निर्देशक की ओर से एक बयान साझा किया.

बप्पी लहरी को हुआ कोरोना

स्पॉर्टबॉय की खबर के अनुसार बप्पी लहरी के प्रवक्ता ने बताया कि सावधानी बरतने के बाद भी संगीत निर्देशक को कोरोना का टेस्ट पॉजिटिव आया है. फिलहाल उनको मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

उन्होंने उन सभी से आग्रह किया जो उनके संपर्क में आए हों और वह अपना कोरोनोवायरस का टेस्ट करवा लें. सावधानियों के बावजूद दुर्भाग्य से श्री बप्पी लाहरी का कोविड 19 का टेस्ट पॉजिटिव आया है. वह ब्रीच कैंडी अस्पताल में बहुत अच्छे और विशेषज्ञ देखभाल के अधीन हैं.

बप्पी दादा का परिवार उन सभी से अनुरोध करता है जो हाल के दिनों में उनके संपर्क में आए थे, उन्हें एहतियात के तौर पर खुद को जांचना चाहिए. इसके साथ ही बयान में आगे कहा गया है कि वह अपने प्रशंसकों, दोस्तों और भारत और विदेश से सभी लोगों का आशीर्वाद और शुभकामनाएं चाहते हैं.

बप्पी दा की ओर से, हम उनके सभी शुभचिंतकों और प्रशंसकों को स्वस्थ रहने, धन्य बने रहने का संदेश देते हैं. हाल ही में 17 मार्च को बप्पी लाहरी ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया था, जिसमें खुलासा किया गया था कि उन्होंने COVID-19 वैक्सीन के लिए पूर्व-पंजीकृत किया था. उन्होंने 60 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों से भी आग्रह किया, और 45-59 के बीच की आयु वाले लोगों को भी ऐसा करने के लिए कहा.

बप्पी लहरी(Bappi Laheri) का असली नाम अलोकेश लहरी है व उनका जन्‍म 1952 को जलपैगुड़ी पश्चिम बंगाल में हुआ था. साल 1972 बंगाली फिल्म दादू में दादा ने अपने करियर की शुरुआत की थी. जिसके बाद साल 1973 में नन्हा शिकारी में काम किया था. बाद में ताहिर हुसैन की फिल्म जख्मी जो की साल 1975 में आयी, इस फिल्म से बप्पी लहरी ने बॉलीवुड में कदम रखा था.

Check Also

कोरोना रिटर्न्स का असर:मुंबई में फिल्मों की शूटिंग पर लगी रोक तो ‘एक विलेन रिटर्न्स’ की शूटिंग के लिए गोवा पहुंचे अर्जुन कपूर

कोरोना कर्फ्यू के चलते मुंबई में एक मई तक फिल्‍मों, वेब शो और सीरियलों की ...