Home / हेल्थ-फिटनेस / शुक्राणु कम होने के कारण और बढ़ाने के बेहतर उपाय, पुरुष एक बार जरुर पढ़ें

शुक्राणु कम होने के कारण और बढ़ाने के बेहतर उपाय, पुरुष एक बार जरुर पढ़ें

कल्याण आयुर्वेद- सुंदर सपने से सजी विवाहित जिंदगी उस समय बदरंग बन जाती है जब किसी पुरुष की जिंदगी में आता वह समय जिसकी सभी को अभिलाषा होती है. शादी के बाद हर महिला व पुरुष को नए मेहमान का बेसब्री से इंतजार रहता है. पर इंतजार बढ़ते- बढ़ते जब सालों में बदल जाए तो दोनों के बीच एक प्रश्न बनकर खड़ा हो जाता है. क्योंकि शारीरिक संपर्क के समय भी किसी न किसी के शरीर में इसकी कमजोरी प्रश्न बनती खड़ी रहती है.

शुक्राणु कम होने के कारण और बढ़ाने के बेहतर उपाय, पुरुष एक बार जरुर पढ़ें

हालांकि ज्यादातर बच्चे ना होने का कारण महिलाओं को ही ठहराया जाता है. लेकिन इसमें पुरुष भी कम जिम्मेदार नहीं होता है. जब पुरुषों में शुक्राणु के बनने के लक्षण कम होते हैं तो उनमें नपुंसकता अधिक होने लगती है. जिससे बच्चे के पैदा होने में दुविधा खड़ी हो जाती है. सामान्य तौर पर एक स्वस्थ और हेल्दी पुरुष में 15 मिलियन शुक्राणु की कोशिकाओं का होना जरूरी होता है. जिसमें स्वस्थ शुक्राणु के इन लक्षणों के अलावा रूप संरचना और गतिशीलता का होना आवश्यक माना जाता है और इसकी कमी से ही अन हेल्थी शुक्राणु के लक्षणों का होना पाया जाता है. जिसमें मर्द में नपुंसकता और सेक्स करने की इच्छा की कमी होने लगती है. पूरी जिंदगी पर इसका असर देखने को मिलता है. इसलिए यदि आप थोड़ी सतर्कता बरतते हैं तो आप अपनी जीवनशैली में सुधार लाकर शुक्राणु की क्वालिटी और क्वांटिटी को बढ़ा सकते हैं.

शुक्राणु कम होने के कारण और बढ़ाने के उपाय-

1 .खानपान-

आज के समय में बदलता खान पान हमारे स्वास्थ्य के लिए कई समस्याएं उत्पन्न करता है क्योंकि हमारे प्रतिदिन के आहार में पोषक तत्वों की मात्रा ना के बराबर पाई जाती है जो पुरुषों में नपुंसकता का कारण बनती जा रही है. क्योंकि प्रतिदिन आपके खाने में लिए जाने वाले जंक फूड आप की प्रजनन क्षमता को कम कर रही है. जिससे हर लोगों में नपुंसकता और शारीरिक कमजोरी की समस्या ज्यादा से ज्यादा प्रभावित कर रही है. यदि आप इस समस्या से छुटकारा पाना चाहते हैं तो अपने आहार में स्वास्थ्यवर्धक और हेल्दी खाना खाने का सबसे ज्यादा उपयोग करें. ज्यादा से ज्यादा प्रोटींस, विटामिंस, हरी पत्तेदार सब्जियां, फल, फाइबर जैसी चीजों को अपने आहार में शामिल करें. इससे नई उर्जा मिलती है जो शुक्राणु को हेल्दी बनाए रखने में मददगार होता है.

2 .एक्सरसाइज-

वैसे तो पुरुषों में बढ़ती उम्र के अनुसार शुक्राणुओं की संख्या में कमी आने लगती है. लेकिन जब आप युवावस्था के समय ही इस समस्या से जकड़े हैं तो आपका घर बिखराव की कगार पर खड़ा हो जाता है क्योंकि पत्नी भी शारीरिक संबंध के दौरान नाखुश रहती है. साथ ही बच्चे के जन्म लेने में भी परेशानी रहती है और काफी हद तक शरीर में कमजोरी के कारण सेक्स आपके जीवन को प्रभावित करता है. इससे प्रजनन क्षमता के स्तर में कमी कामेच्छा में कमी शारीरिक कमी जैसी समस्याएं उत्पन्न होती है. इन सभी समस्याओं से लड़ने का एक ही उपाय है और वह है नियमित रूप से एक्सरसाइज करना. जो आपके शरीर को मजबूत बनाने के साथ-साथ आपके शुक्राणुओं की क्वांटिटी और क्वालिटी के लिए विशेष भूमिका अदा करता है.

3 .शराब कम मात्रा में पिए-

कई शोधों में पाया गया है कि एक से अधिक बार शराब पीने से पुरुषों के शुक्राणु की क्षमता में कमी होने के साथ-साथ शारीरिक संबंध बनाने की इच्छा में भी कमी आ जाती है. साथ ही पुरुषों के सेक्स हार्मोन टेस्टोस्टेरोन के स्तर को खत्म करने लगता है. इसलिए सेक्स जीवन को स्वस्थ और सुंदर बनाने के लिए शराब की लत में सुधार लाना जरूरी होता है.

4 .धूम्रपान से बनाएं दूरी-

यदि आप अपने शरीर को स्वस्थ रखने के साथ-साथ शुक्राणु को स्वस्थ और संख्या बढ़ाना चाहते हैं तो तुरंत ही धूम्रपान सेवन करना बंद कर दें. एक पैक सिगरेट पीने से वीर्य में कैडमियम के स्तर को बढ़ाकर शुक्राणुओं की संख्या को कम करने लगता है क्योंकि कैडमियम डीएनए को क्षति पहुंचाता है. जिससे शुक्राणुओं की संख्या में कमी आ जाती है.

5 .ना करें मनोरंजक दवाइयों का सेवन-

आजकल ज्यादातर युवा वर्ग के लोग सेक्स के दौरान उत्तेजना को बढ़ाने के लिए कई प्रकार के मनोरंजक दवाइयों का सहारा लेते हैं जो बाद में उनकी सेक्स क्रिया को प्रभावित करने लगता है. जिससे पुरुषों के लिंग में रक्त का संचार सही तरीके से नहीं हो पाता है और शुक्राणु के उत्पादन का स्तर गिरने लगता है. जिसके वजह से शुक्राणुओं की संख्या में कमी आती है. इसलिए थोड़े समय के आनंद के लिए आप अपनी जिंदगी को बर्बाद ना करें और मनोरंजक दवाइयों से बचें.

6 .तनाव से रहें दूर-

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए मन को स्वस्थ रखना काफी जरूरी होता है. यदि आप हमेशा तनावग्रस्त रहेंगे तो आपका पूरा शरीर इसके गिरफ्त में रहेगा. जिससे शरीर के सारे अंक की गतिविधियां में परिवर्तन होने के साथ-साथ आपके सेक्स लाइफ में भी इसके परिणाम देखने को मिल सकते हैं. तनाव के समय शरीर का रक्त संचार काफी अधिक गति से काम करता है और यही रक्त में उच्च स्तर के होने से स्ट्रेंस हार्मोन बढ़ने लगता है और शुक्राणुओं की संख्या घटने लगती है जो आपकी जीवन को बर्बाद कर देती है.

7 .सेक्स के दौरान सुरक्षा का रखें ध्यान-

शारीरिक संबंध बनाने के दौरान सुरक्षा का ध्यान नहीं रखने पर यौन संचारित रोग होने की संभावना अधिक हो जाती है जो शुक्राणुओं के डीएनए और संख्या को पहले प्रभावित करता है

Check Also

स्किन-हेल्थ और इम्यूनिटी के लिए रामबाण है टमाटर का जूस, ऐसे बनाइए, मिलेंगे ये फायदे

Benefits of Tomato Juice: टमाटर का उपयोग भोजन के स्वाद को बढ़ाने के लिए खूब किया ...