Home / वायरल न्यूज़ / ये है दुनिया का सबसे बड़ा आम, गिनीज रिकॉर्ड में नाम हुआ दर्ज, वजन और साइज जानकार चौंक जाएंगे आप

ये है दुनिया का सबसे बड़ा आम, गिनीज रिकॉर्ड में नाम हुआ दर्ज, वजन और साइज जानकार चौंक जाएंगे आप

आपने आम कई तरह के देखे होंगे लेकिन ऐसा शायद नहीं देखा होगा. अगर नजदीक से न देखें या छूकर न देखें तो एक नजर में आप समझ नहीं पाएंगे कि यह आम है या कुछ और. हो सकता है आप इसे तरबूज समझ बैठें. वजन और आकार में यह तरबूज से कम नहीं क्योंकि सामान्य तौर पर यह 4 किलो से ऊपर का होता है. जी हां, आम की ऐसी भी वेरायटी होती है.

आप सोच रहे होंगे कि यह आम होता कहां है जो तरबूज की तरह होता है. कई किलो के बराबर एक आम का वजन आखिर कैसे हो सकता है? ये सवाल जायज है क्योंकि भारत में ऐसा देखने को नहीं मिलता. हम यहां जिस वेरायटी की बात कर रहे हैं, वह भारत का है भी नहीं बल्कि कोलंबिया का है. आपने अब तक सबसे स्वादिष्ट आम के बारे में सुना होगा तो यह भी सुन लीजिए कि कोलंबिया में होने वाला सबसे वजनी आम कौन सा है और एक आम देखने-तौलने में कितना भारी होता है.

कहां हुआ उत्पादन

यह दुनिया का सबसे भारी आम है जिसे कोलंबिया के किसान जर्मन ओरलैंडो, नोवोआ बरेरा और रीना मारिया मोरोक्विन ने उगाया है. इनके उगाए आम ने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कराया है. ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, किसानों ने कोलंबिया के छोटे स्थान गुवायाटा में इस आम की खेती की है. गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड के एक बयान के मुताबिक एक आम का वजन 4.25 किलोग्राम है. मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि जिस किसान ने यह आम उगाया है, उसकी बेटी ने अपने पिता से कहा कि इंटरनेट पर सर्च करें कि सबसे वजनी आम को दुनिया में किस तरह का पुरस्कार मिलता है.

गिनीज में दर्ज हुआ नाम

किसान परिवार ने महसूस किया कि उनके फार्म में उगने वाला आम सामान्य नहीं है और दुनिया में सबसे अलग किस्म है. बाद में जैसे-जैसे लोगों को जानकारी मिली, यह खबर दूर तक फैली और पता चला कि दुनिया का सबसे भारी और बड़ा आम है. ख्याति का नतीजा रहा कि इस आम को गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी जगह मिल गई. गिनीज रिकार्ड के एक्सपर्ट ने पूरी छानबीन के बाद पाया कि ऐसा आम दुनिया में कहीं नहीं और इससे पहले किसी आम ने ऐसा रिकॉर्ड नहीं बनाया है.

महामारी के बीच अच्छा काम

गिनीज रिकॉर्ड ने अपने बयान में कहा है कि जिन किसानों ने इस आम का उत्पादन किया है, उनको यह संदेश देना था कि कोलंबिया के किसान मेहनती होते हैं, लगन और प्रेम से खेती करते हैं. अगर इस तरह से खेती की जाए तो उत्पादन हमेशा अच्छा और रिकॉर्ड स्तर का मिलता है. महामारी के दौरान लोगों को यह संदेश देना था कि हमेशा आदमी को कुछ नया और अच्छा करने का मंसूबा पालना चाहिए.

यहां का आम बना चुका है रिकॉर्ड

इस भारी और सबसे वजनी आम को खाने से पहले किसान परिवार ने इसके कुछ हिस्से काटकर लोगों में बांट दिए. कुछ हिस्से निगम कर्मचारियों को भी बांटे गए. आम का रेप्लिका बनाकर निगम दफ्तर में दिया गया ताकि इतिहास में उसे संजोकर रखा जा सके. रिपोर्ट के मुताबिक, इससे पहले फिलीपिंस में 2009 में सबसे बड़े आम के उत्पादन का रिकॉर्ड बना था और इसका वजन 3.435 किलो तौला गया था. कोलंबिया के किसानों ने इस रिकॉर्ड को तोड़ दिया और उनके आम का वजन 4.25 किलो है.

Check Also

साथी को मुसीबत में देख अपनी जान पर खेल गया कुत्ता, बेजुबान जानवर ने सिखाई इंसानों को ‘इंसानियत’

कहते हैं त्याग, दयालुता जैसे गुण सिर्फ इंसानों में होते हैं, जानवरों में इन सभी ...