Home / मनोरंजन / मौसमी चटर्जी का 73वां जन्मदिन:10वीं क्लास में पढ़ते हुए ही मौसमी की हो गई थी शादी, 16 साल की उम्र में शादी के बाद रखा था फिल्मों में कदम

मौसमी चटर्जी का 73वां जन्मदिन:10वीं क्लास में पढ़ते हुए ही मौसमी की हो गई थी शादी, 16 साल की उम्र में शादी के बाद रखा था फिल्मों में कदम

गुजरे जमाने की एक्ट्रेस मौसमी चटर्जी 73 साल की हो गई हैं। उनका जन्म 26 अप्रैल, 1948 को कोलकाता में हुआ था। मौसमी के बारे में कम ही लोग जानते हैं कि उन्होंने शादी के बाद फिल्मों में अपना करियर बनाया। जब वे 10वीं क्लास में पढ़ती थी तभी उनकी शादी हो गई थी। शादी के बाद उन्होंने बॉलीवुड फिल्मों में अपनी पहचान बनाई।

16 साल की उम्र में रखा फिल्मों में कदम

मौसमी ने 16 साल की उम्र में अपने करियर की शुरुआत बांग्ला फ़िल्म ‘बालिका बधु’ से की थी। उनकी पहली हिंदी फिल्म 1972 में आई फिल्म अनुराग थी। मौसमी ने ‘अंगूर’, ‘मंज़िल’ और ‘रोटी कपड़ा और मकान’ जैसी बेहतरीन फिल्मों में काम किया है। अपने फिल्मी करियर में राजेश खन्ना, शशि कपूर, जीतेंद्र, संजीव कुमार, विनोद मेहरा और अमिताभ बच्चन जैसे बेहतरीन कलाकारों के साथ काम भी काम कर चुकी हैं।

बिना ग्लिसरीन के रो पड़ती थीं मौसमी

मौसमी चटर्जी के बारे में कहा जाता था कि वो रोने वाले दृश्य बड़े ही सरलता के साथ कर लेती थीं और इसके लिए उन्हें ग्लिसरीन की भी ज़रुरत नहीं पड़ती थीं। इस बारे में मौसमी ने खुद एक इंटरव्यू में कहा था, “हां ये सच है। ये ऊपरवाले का दिया हुआ एक वरदान है। जब किसी दृश्य में मुझे रोना होता था तो मैं सोचती थी कि ये मेरे साथ सच में हो रहा है और मैं रो पड़ती थी।”

मौसमी ने आगे कहा था, फैन्स ने मुझे बहुत प्यार दिया। मैं जहां भी गई लोगों ने बहुत सम्मान दिया। “मैं समझती हूं कि मैंने जितने भी किरदार निभाए वो सब बड़े घरेलू थे और इसी वजह से मुझे लोगों से काफी प्यार मिलता था। सही बताऊं तो मैंने बहुत जल्दी काफ़ी गंभीर किरदार निभाने शुरू कर दिए क्योंकि मुझे एक्सपोज़ करना पसंद नहीं था।”

बेटी की मौत से लगा सदमा

मौसमी चटर्जी को निजी ज़िंदगी में तब तगड़ा झटका लगा जब उनकी बेटी पायल सिन्हा का 2019 में निधन हो गया। 44 वर्षीय पायल ने जुवेनाइल डायबिटीज से जूझ रही थीं। अप्रैल 2017 से लेकर एक साल तक उन्हें बार-बार अस्पताल ले जाना पड़ा। लेकिन जब अप्रैल 2018 में वे कोमा में चली गईं तो पति डिकी उन्हें अपने घर ले गए थे। इसके कुछ महीने बाद पायल के पैरेंट्स मौसमी और जयंत मुखर्जी ने दामाद पर बेटी की देखभाल ठीक से न करने का आरोप लगाया था। उन्होंने बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर कर बेटी की देखभाल की इजाजत मांगी थी लेकिन 12 दिसंबर 2019 को पायल का निधन हो गया।

खबरें और भी हैं…

Check Also

कोरोना से जूझ रहे भारत की मदद के लिए आगे आया हॉलीवुड स्टार, प्रियंका चोपड़ा ने इस अंदाज में कहा ‘शुक्रिया’

कोरोना के भयंकर कहर से इस वक्त देश जूझ रहा है. कोरोना वायरस की इस ...