Home / हेल्थ-फिटनेस / महिलाओं में हार्ट अटैक के 5 संकेत, ध्‍यान देंगे तो जान बच सकती है

महिलाओं में हार्ट अटैक के 5 संकेत, ध्‍यान देंगे तो जान बच सकती है

हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक हार्ट अटैक होने से पहले कुछ खास लक्षण होते हैं, जिसकी अनदेखी करना महंगा साबित हो सकता है, इसलिये आइये आज आपको बताते हैं कि हार्ट अटैक होने से पहले क्या-क्या लक्षण होते हैं। बदलती लाइफस्टाइल से हार्ट अटैक की समस्या बढ गई है। महिलाओं में हार्ट अटैक होने से पहले कई तरह के लक्षण दिखाई देते हैं। उन्हें अनदेखा करना महंगा पड़ सकता है। इसलिये इन लक्षणों को नजरअंदाज ना करें।

पहला संकेत : जी मिचलाना, उल्टी, चक्‍कर आना
हार्ट अटैक के पहले पुरुषों की तुलना में महिलाओं में जी मिलचाना, उल्टी या अपच जैसे लक्षण ज्यादा दिखाई देते हैं। ये अक्सर इसलिये होता है, क्योंकि दिल को रक्त पहुंचाने वाली दायीं धमनी जो दिल में गहराई तक जाती है, वो अवरुद्ध हो जाती है। इसलिये अटैक से पहले ऐसे लक्षण दिखाई देते हैं। चक्कर आना या फिर सिर घूमना हार्ट अटैक का एक अन्य लक्षण है, ये ह्दय को जाने वाली एक शिरा में अवरोध होने के कारण होता है,  जब महिलाओं को अपने अंदर ये बदलाव दिखने लगे, तो तुरंत सावधान हो जाना चाहिये।

दूसरा संकेत : शरीर के ऊपरी भाग में तेज दर्द
शरीर के ऊपरी भाग जैसे गर्दन, पीठ, दांत, भुजाएं और कंधे की हड्डी में दर्द होना हार्ट अटैक के लक्षण हैं, इसे रेडीएटिंग दर्द कहते हैं, यह इसलिये होता है क्योंकि दिल की कई धमनियां यहां समाप्त होती है, जैसे उंगलियों के पोर जहां दर्द केंद्रित होता है। कई बार महिलाएं इसे काम के प्रेशर की वजह से होने वाली कमजोरी या दूसरे कारण समझ लेती है, इसलिये इसे बिल्कुल भी नजरअंदाज ना करें।

तीसरा संकेत : सीने में दर्द
महिलाओं में हार्ट अटैक का लक्षण सिर्फ सीने में दर्द नहीं हो सकता, लेकिन ये भी एक लक्षण है। हार्ट अटैक के लक्षण को अक्सर लोग मामूली समझकर नजरअंदाज कर देते हैं, इसके परिणाम उन्हें बाद में झेलने पड़ते हैं, इसलिये अगर आपको कुछ नये लक्षण महसूस हो, तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक बाद में पछताने से अच्छा है कि सुरक्षित रहे।

चौथा संकेत : अचानक से पसीना आना
यदि आप रजोनिवृति के दौर से नहीं गुजर रही, और आपको अचानक पसीना आने लगे, तो फिर संभल जाइये। पसीना आने के साथ अचानक से घबराहट बढ़ना भी एक संकेत है, इसकी अनदेखी ना करें । तुरंत अपने नजदीकी अस्पताल या फिर डॉक्टर से संपर्क करें, उन्हें अपनी परेशानी बताएं, ताकि वो अच्छे से आपका इलाज कर सकें।

पांचवां संकेत : सांस लेने में परेशानी
एक रिसर्च में पता चला है कि करीब 42 फीसदी महिलाएं जिन्हें हार्ट अटैक आया, उन्हें सांस लेने में परेशानी की समस्या का सामना करनापड़ा। पुरुषों में भी ये लक्षण सामने आता है । लेकिन महिलाओं में सीने के दर्द के बिना सांस लेने में परेशानी जैसी समस्या का सामना करना पड़े, तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं। ज्‍यादातर महिलाएं अपनी लापरवाही के कारण बीमारी की शिकार होती हैं । इसलिए अपनी सेहत के लिए सतर्क रहें ।

Check Also

Heat Rash Remedies: गर्मियों में घमौरियों या खुजली की समस्या से परेशान हैं तो आजमाएं कुछ Gharelu Nuskhe

नई दिल्ली: Heat Rash Remedies: गर्मी का मौसम दस्तक दे चुका है. इस मौसम में घमौरियों ...