Home / मनोरंजन / महाराष्ट्र में बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर टीवी इंडस्ट्री सख्त, वीकेंड पर नहीं होगी शूटिंग

महाराष्ट्र में बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर टीवी इंडस्ट्री सख्त, वीकेंड पर नहीं होगी शूटिंग

महाराष्ट्र में लगातार कोरोनावायरस के मामले (Coronavirus Cases in Maharashtra) सामने आ रहे हैं. कोविड-19 प्रोटोकॉल अपनाने के बावजूद टीवी इंडस्ट्री (TV Industry) भी इससे अछूती नहीं रही है. टीवी इंडस्ट्री के कई कलाकार कोरोनावायरस का शिकार हो चुके हैं. ऐसे में अब टीवी इंडस्ट्री को लेकर एक बहुत ही महत्वपूर्ण कदम उठाया गया है. महाराष्ट्र सरकार ने वीकेंड पर पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की है, इसलिए उस दौरान किसी भी सीरियल की शूटिंग नहीं होगी.

ईटाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, प्रोड्यूसर और एक्टर जेडी मजीठिया (JD Majethia) ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) से 4 अप्रैल को हुई मीटिंग के बाद वीकेंड पर शूटिंग नहीं करने की बात कही है. मजीठिया ने बताया कि इस हफ्ते वे अच्छे से चीजों को मॉनिटर करेंगे और अगर कोई समस्या सामने आती है तो जरूरत पड़ने पर राज्य सरकार से संपर्क करेंगे. बताते चलें कि मजीठिया इंडियन फिल्म्स एंड टेलीविजन प्रोड्यूसर काउंसिल के चेयरमैन हैं.

शनिवार और रविवार नहीं होगी शूटिंग

सीएम उद्धव ठाकरे के साथ हुई बातचीत के बारे में बताते हुए मजीठिया ने कहा कि टीवी शोज और डेली सोप की शूटिंग शनिवार और रविवार को नहीं हो सकती, क्योंकि राज्य में वीकेंड पर पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की गई है. राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए नियमों को लेकर प्रोडक्शन हाउसेज को सूचित कर दिया गया है. उन्होंने उसी के अनुसार अपने शोज की शूटिंग करना शुरू कर दिया है. इस हफ्ते वे लोग मैनेज करेंगे. हालांकि, कई सीरियल ऐसे हैं जिनकी पहले से ही कई एपिसोड की शूटिंग हो चुकी है.

उन्होंने आगे कहा कि अगले हफ्ते से हम देखेंगे कि क्या करना होगा. हम इस बात से खुश हैं कि सीएम उद्धव ठाकरे ने हमारी समस्याओं को समझा और पूरे हफ्ते पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा नहीं की. अभी उन्होंने हमें पांच दिन दिए हैं. फिलहाल हर ब्रॉडकास्टर को स्थिति के अनुसार अपने चैनल के लिए एक रणनीति बनानी होगी कि वे अपने टीवी ब्रॉडकास्टिंग शेड्यूल को कैसे तैयार करेंगे.

इसके बाद मजीठिया ने कहा कि मुझे पूरा यकीन है कि हर किसी के पास अपने चैनल, शो और उनकी मार्केटिंग को लेकर एक योजना होगी. मुझे विश्वास है कि इस मुद्दे पर सभी लोग एक साथ आएंगे और जल्द ही एक उचित योजना बनाएंगे.

आपको बता दें कि बीते साल जब केंद्र सरकार ने देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की थी, तब हर कोई घर में बैठ गया था. इस लॉकडाउन का सबसे ज्यादा असर उन लोगों पर पड़ा, जो कि दिहाड़ी पर काम करते हैं. टीवी इंडस्ट्री में भी ऐसे कई लोग हैं, जिनका गुजारा शूटिंग्स से ही चलता है. लॉकडाउन का टीवी इंडस्ट्री पर बुरा असल पड़ा था. डिप्रेशन और काम न होने के कारण कई कलाकारों ने खुदकुशी तक कर ली थी.

Check Also

कोरोना रिटर्न्स का असर:मुंबई में फिल्मों की शूटिंग पर लगी रोक तो ‘एक विलेन रिटर्न्स’ की शूटिंग के लिए गोवा पहुंचे अर्जुन कपूर

कोरोना कर्फ्यू के चलते मुंबई में एक मई तक फिल्‍मों, वेब शो और सीरियलों की ...