Home / धर्म / धनतेरस के दिन सोना चांदी से कई गुना सस्ती ये मामूली सी चीज खरीदना मत भूलना, इसके साथ घर आती है माँ लक्ष्मी की कृपा

धनतेरस के दिन सोना चांदी से कई गुना सस्ती ये मामूली सी चीज खरीदना मत भूलना, इसके साथ घर आती है माँ लक्ष्मी की कृपा

लखनऊ: ये तो सब जानते है कि बहुत ही जल्द दीवाली का त्यौहार आने वाला है और इस खास त्यौहार पर हर व्यक्ति माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने की पूरी कोशिश करता है। हालांकि दीवाली के त्यौहार से पहले धनतेरस भी मनाई जाती है और इस दिन कई नयी चीजों का घर में आगमन होता है। अब यूँ तो ज्यादातर लोग धनतेरस के खास मौके पर सोना चांदी जैसी कीमती चीजें खरीदना ही ज्यादा पसंद करते है, लेकिन सोना चांदी से भी ज्यादा कीमती ये मामूली सी चीज धनतेरस के दिन जरूर खरीदें, क्यूकि इस चीज को खरीदना काफी शुभ माना जाता है। तो चलिए अब आपको इस चीज के बारे में विस्तार से बताते है।

धनतेरस के दिन जरूर खरीदें यह छोटी सी चीज :

सबसे पहले तो हम आपको ये बताना चाहते है कि इस बार धनतेरस के मौके पर कुछ अशुभ योग बन रहे है, जिसके कारण व्यक्ति की अकाल मृत्यु हो सकती है। इसलिए धनतेरस की पूजा करने से पहले शुभ और अशुभ योग के बारे में एक बार जरूर जान ले। वही अगर हम उस छोटी सी वस्तु की बात करे तो आपको जान कर हैरानी होगी कि धनतेरस के दिन झाड़ू खरीदना काफी अच्छा माना जाता है। इसकी वजह ये है कि घर की साफ सफाई करने में झाड़ू का काफी बड़ा योगदान होता है और जो घर साफ सुथरा होता है, वहां माँ लक्ष्मी का आगमन जरूर होता है। इसके इलावा आपके घर में जो पुरानी झाड़ू है, उसे दीवाली के अगले दिन ही बाहर फेंकना चाहिए।

इसके साथ ही ऐसा कहा जाता है कि अगर आप धनतेरस के दिन यम की पूजा करते है तो इससे अकाल मृत्यु का भय भी समाप्त हो जाता है। इसलिए इस दिन धन्वंतरि देवता के साथ साथ यम की पूजा भी जरूर करनी चाहिए। हालांकि यहाँ इस बात का ध्यान रखे कि यम यानि असुरों की पूजा विशेष समय पर ही करनी चाहिए, क्यूकि गलत मुहूर्त में की गई पूजा से आपको नुक्सान भी हो सकता है। बता दे कि इस दिन सुबह उठने और स्नान करने के बाद आपको चौदह दीयें बनाने चाहिए। जी हां तेरह दीयें आपको कुबेर पूजा के लिए और एक दीयां यम पूजा के लिए बनाना है। आप चाहे तो ये दीयें आटे या कच्ची मिट्टी से भी बना सकते है।

धनतेरस के दिन यम पूजन करने से पहले ध्यान रखे ये बातें :

गौरतलब है कि अगर आपको इतने दीयें बनाने में मुश्किल हो रही है, तो आप तेरह दीयें बने बनाएं भी ले सकते है, लेकिन यम का एक दीया आपको कच्ची मिट्टी से ही बनाना चाहिए। बहरहाल इस दिन कुबेर महाराज की पूजा करना जरा भी न भूले, क्यूकि माँ लक्ष्मी को खुश करने से पहले आपको कुबेर देवता को खुश करना होगा, तभी माँ लक्ष्मी आप पर अपनी कृपा बरसाएंगी। बता दे कि जो एक दीया आपने यम के लिए बनाया है उसमें सरसों का तेल डाले और सफेद पर थोड़ी सी हल्दी लगा कर दीयें में वह कौड़ी डाल दे। इसके बाद दक्षिण दिशा की तरफ मुँह करके इस दीयें को रख दे।

इसके इलावा आपको दीयें को बुझते हुए नहीं देखना है और यहाँ इस बात का ध्यान रखे कि जो कौड़ी आपने दीयें में डाली है, आपको उसे दोबारा अपने घर में जरूर लाना है। वो इसलिए क्यूकि कौड़ी को माँ लक्ष्मी का स्वरूप माना जाता है, इसलिए दीयें में रखी गई कौड़ी को बुरे लोगों की नजरों से बचा कर अपने घर में वापिस जरूर ले आएं। वही शास्त्रों के अनुसार ऐसा कहा जाता है कि माँ लक्ष्मी किसी भी कोने से आपके घर में प्रवेश कर सकती है, इसलिए घर का हर कोना साफ सुथरा रखना चाहिए। यानि

Check Also

राशिफल 28 नवंबर: वृष राशि के जातकों का जीवनसाथी के साथ बीतेगा अच्छा समय, कर्क राशि के लोगों को रहेगी यह चिंता

कार्तिक शुक्ल पक्ष की उदया त्रयोदशी तिथि और शनिवार है। त्रयोदशी तिथि सुबह 10 बजकर ...