Home / हेल्थ-फिटनेस / डिलीवरी के बाद 40 दिनों के जापे में जरूर करने चाहिए ये काम

डिलीवरी के बाद 40 दिनों के जापे में जरूर करने चाहिए ये काम

डिलीवरी चाहे नॉर्मल हो या ऑपरेशन से, दोनों ही स्थितियों में 40 दिन तक आराम करने की सलाह दी जाती है। डिलीवरी के बाद महिलाओं के 40 दिन के रिकवरी टाइम को जापा कहा जाता है और ये 40 दिन बहुत अहम होते हैं। इस दौरान शरीर के कई घाव भरते हैं और बॉडी अपनी पहले वाली पोजीशन में आती है।

यहां हम आपको बता रहे हैं कि डिलीवरी के बाद 40 दिनों के रिवकरी पीरियड में महिलाओं को क्‍या करना चाहिए और इस दौरान कैसे आप अपनी रिकवरी में तेजी ला सकती हैं।

​नींद लेना है जरूरी

बच्‍चे के जन्‍म के बाद मां के लिए भरपूर नींद ले पाना मुश्किल काम है लेकिन नींद लेना भी जरूरी है इसलिए जब भी आपको मौका मिले, अपने बच्‍चे के साथ आप झपकी ले लें।

आपको इस समय मानसिक और शारीरिक थकान महसूस हो सकती है और आपको लगेगा जैसे कि ये समय कभी खत्‍म ही नहीं होगा लेकिन जब आपके बच्‍चे का स्‍लीप रूटीन बन जाएगा तब आपकी जिंदगी भी ट्रैक पर आने लगेगी। तब तक के लिए अपने बच्‍चे के सोने पर ही सो जाएं, इससे कुछ हद तक तो आपकी नींद पूरी होगी।

​डिलीवरी के बाद मालिश

डिलीवरी के दौरान शरीर की मांसपेशियों में खिंचाव और कमजोरी आ जाती है जिसे दूर करने के लिए मालिश को बहुत फायदेमंद माना जाता है।

मालिश से शरीर की थकान को दूर करने और रक्‍त प्रवाह में सुधार आने में मदद मिलती है। सी-सेक्‍शन के बाद पैरों और कमर की मालिश करवाना बहुत फायदेमंद होता है क्‍योंकि इससे शरीर की कमजोरी दूर होती है और आपको ताकत महसूस होने लगती है।

 डिलीवरी डायट

डिलीवरी के बाद मां के शरीर को ताकत और एनर्जी देने के लिए गोंद के लड्डू खिलाए जाते हैं। ऐसी ही कुछ और भी चीजें हैं जो डिलीवरी के बाद शरीर के घावों को भरने में मदद करते हैं। गोंद के लड्डुओं की तरह और भी कई ऐसी चीजें हैं जो प्रसव के बाद शरीर को ताकत देने में मदद करती हैं। ये स्‍तनों में दूध को बढ़ाने का भी काम करती हैं।

​डिलीवरी के बाद टांकों की देखभाल

ऑपरेशन के बाद टांकों को भरने के लिए आप यहां बताए गए तरीके अपना सकती हैं :

  • अगर आपकी एपीसीओटोमी हुई है तो डिस्‍इंफेक्‍टेंट मिलाकर गुनगुने पानी में बैठ जाएं। इससे टांके वाली जगह साफ होगी और आपको दर्द से भी आराम मिलेगा।
  • ठंडी सिकाई से दर्द और सूजन को भी कम किया जा सकता है। एक तौलिया लें और उसमें बर्फ को लपेटकर टांके वाली जगह की सिकाई करें।
  • इंफेक्‍शन से बचने के लिए टांके वाली जगह पर रोज क्रीम या दवा लगाएं।

​पति के साथ बिताएं समय

पैरेंट्स बनने के बाद कपल्‍स को एक-दूसरे के लिए ज्‍यादा समय नहीं मिल पाता है और आप दोनों ही बस बच्‍चे की जरूरतों और परवरिश में बिजी रहते हैं। लेकिन अगर आप अपने पति के साथ कुछ स्‍पेशल टाइम बिताती हैं तो आप मेंटली थोड़ा बेहतर महसूस कर सकती हैं। शिशु को सुलाने के बाद पति के साथ थोड़ा समय बिताएं।

Check Also

यदि करेंगे ये एक्सरसाइजेज तो बॉडी रहेगी फिट, माइंड होगा तेज

जब हम हर कार्य आयु के मुताबिक करते हैं तो अभ्यास के प्रति ढिलाई क्यों बरतते हैं? जानकार कहते हैं कि आयु के मुताबिक खानपान और अभ्यास की आदत डाल ली जाए ...