Home / धर्म / अब बच्चों के लिए बोझ नहीं रहेगी पढ़ाई

अब बच्चों के लिए बोझ नहीं रहेगी पढ़ाई

परीक्षाएं आने वाली हैं और बच्चों पर पढ़ाई का दबाव बढ़ने लगा है। बच्चों का चंचल मन आसानी से एकाग्र नहीं हो पाता है। ऐसे में कुछ आसान से वास्तु उपाय अपनाए जा सकते हैं। इनके प्रभाव से बच्चों में एकाग्रता बढ़ सकती है और परीक्षा में वह बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं। आइए जानते हैं इन उपाय के बारे में।

घर में सकारात्मक ऊर्जा है तो बच्चे स्वस्थ रहेंगे और पढ़ाई में भी उनका मन लगेगा। स्टडी रूम का वातावरण सुगंधित होना चाहिए। पढ़ाई के कमरे में प्राकृतिक रोशनी का आना आवश्यक है। बच्चों के कमरे में शीशा न लगाएं। अगर यह लगा है तो ऐसी जगह न लगाएं जहां पुस्तकों पर उसकी छाया पड़ती हो। ऐसा होने पर बच्चे पढ़ाई को बोझ मानने लगते हैं। बच्चों के स्टडी रूम में जूठे बर्तन कभी न छोड़ें। वास्तुशास्त्र के अनुसार स्टडी टेबल पर टेबल लैंप रखने से बच्चों में एकाग्रता बढ़ती है।

बच्चों के कमरे को हरे रंग से पेंट कराएं। स्टडी रूम में मां सरस्वती का चित्र ऐसे स्थान पर लगाएं जहां से बच्चे की नजर उन पर पड़ती रहे। हरे रंग के तोते वाला पोस्टर भी बच्चे के कमरे की उत्तर दिशा में लगा सकते हैं। इसके अलावा दौड़ते हुए घोड़े या उगते हुए सूरज का चित्र लगाने से भी बच्चों में एकाग्रता बढ़ती है। ध्यान रखें कि बच्चों की स्टडी टेबल टूटी न हो। पढ़ाई करते समय बच्चे का मुख उत्तर दिशा में होना चाहिए। ऐसे में बच्चे नई ऊर्जा से अपनी पढ़ाई में जुट जाएंगे।

Check Also

आर्थिक राशिफल 30 नवंबर: आज के दिन कर्ज लेने से बचें, जानें इन 4 राशियों का राशिफल

Today Arthik Rashifal 30 November 2020: पंचांग के अनुसार 30 नवंबर को कार्तिक शुक्ल की पूर्णिमा ...